Menu

आचार्य देवव्रत ने ली गुजरात के नए राज्यपाल के तौर पर शपथ.

गांधीनगर: आचार्य देवव्रत ने गुजरात के नये राज्यपाल के रूप में सोमवार को शपथ ली. राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में 60 साल के देवव्रत को गुजरात हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश अनंत एस दवे ने शपथ दिलाई. गुजरात के 20वें राज्यपाल के रूप में देवव्रत ने संस्कृत में शपथ ली.
%e0%a4%86%e0%a4%9a%e0%a4%be%e0%a4%b0%e0%a5%8d%e0%a4%af-%e0%a4%a6%e0%a5%87%e0%a4%b5%e0%a4%b5%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a4%a4-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%97%e0%a5%81%e0%a4%9c%e0%a4%b0

पूर्व राज्यपाल ओ पी कोहली, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, राज्य विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी, कैबिनेट के कई मंत्री, विधायक और वरिष्ठ अधिकारी कार्यक्रम में मौजूद थे. गुजरात के राज्यपाल का प्रभार संभालने से पहले देवव्रत हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल थे. आर्य समाज के साथ जुड़े रहे देवव्रत ने इससे पहले हरियाणा के कुरुक्षेत्र में ‘गुरुकुल’ के प्रधानाचार्य के तौर पर सेवाएं दी हैं. हिंदी में स्नातकोत्तर (पीजी) देवव्रत को अकादमिक और प्रशासनिक कार्यों में 30 साल से ज्यादा का अनुभव है. उन्हें विश्व भर में भारतीय संस्कृति और वैदिक मूल्यों के प्रचार-प्रसार की दिशा में काम करने और लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है.


^