Menu

Man vs Wild: मोदी ने कहा- पिछले 18 साल में पहली छुट्टी ली, जानिए शो में पीएम ने क्या-क्या बताया.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मशहूर वाइल्ड लाइफ प्रोग्राम 'मैन वर्सेज वाइल्ड' में शिरकत की. इस दौरान पीएम मोदी ने अपनी जिंदगी से जुड़े कई अहम किस्सों के बारे में बताया. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि यह पहला मौका है जब उन्होंने छुट्टी ली है. शो के दौरान अपने बचपन से लेकर पहले मुख्यमंत्री और फिर प्रधानमंत्री बनने की कहानी सुनाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अगर आप मेरे आज के दिन को छुट्टी मानते हैं, तो पिछले 18 साल में ये पहला दिन है. इसके अलावा भी पीएम मोदी ने शो के दौरान कई बाते की. आइए जानते हैं उन सभी बातों के बारे में
man-vs-wild-%e0%a4%ae%e0%a5%8b%e0%a4%a6%e0%a5%80-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a4%b9%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a4%bf%e0%a4%9b%e0%a4%b2%e0%a5%87-18-%e0%a4%b8%e0%a4%be%e0%a4%b2-%e0%a4%ae%e0%a5%87

1- बचपन को याद करते हुए मोदी ने कहा कि गरीबी के बावजूद उनका परिवार हमेशा प्रकृति से जुड़ा रहा. उन्होंने कहा, यह जुड़ाव ऐसा था कि पैसा नहीं होने के बावजूद उनके पिताजी 20-30 पोस्टकार्ड खरीदते और अपने गांव में होने वाली पहली बारिश की खबर सभी रिश्तेदारों को देते.

2- पीएम मोदी ने कहा कि आपको कभी भी प्रकृति से नहीं डरना चाहिए क्योंकि जब हमें लगता है कि प्रकृति के साथ हमारा सामंजस्य बिगड़ रहा है, समस्या वहीं से शुरू होती है.

3- यह पूछने पर कि क्या वह अच्छे छात्र थे, इसपर मोदी ने हंसते हुए कहा, ”मैं यह नहीं कह सकता कि मैं अच्छा छात्र था या नहीं” उन्होंने कहा,” गरीबी के बावजूद मुझे साफ-सुथरी वर्दी में स्कूल जाना पसंद था और मैं तांबे के लोटे में कोयला जलाकर अपने कपड़े आयरन करता था. मोदी ने कहा कि उन्होंने किशोर वय में ही घर छोड़ दिया था और बहुत समय हिमालय में गुजारा.”

4-शो के दौरान प्रधानमंत्री के रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने का भी जिक्र आया. पीएम मोदी ने कहा कि उनके पिता रेलवे स्टेशन पर चाय बेचते थे. वह स्कूल से आकर अपने पिता की मदद किया करते थे.

5-प्रधानमंत्री ने कहा,”मैं अपने जीवन का फैसला करना चाहता था. लेकिन उससे पहले मैं दुनिया को समझना चाहता था. मैं आध्यात्मिक दुनिया को देखना चाहता था. उसके लिए मैं हिमालय गया. मुझे प्रकृति से प्रेम है. मैं हिमालय में लोगों से मिला, उनके साथ रहा. वह बहुत सुन्दर अनुभव है और मैंने वहां लंबा समय गुजारा.”

6-ग्रिल्स के सवालों पर मोदी ने तालाब से मगरमच्छ का बच्चा पकड़कर घर लाने का किस्सा भी सुनाया. प्रधानमंत्री ने कहा, ”मेरी मां ने मुझसे कहा कि यह गलत है. आप ऐसा नहीं कर सकते. आपको ऐसा नहीं करना चाहिए, इसे वापस छोड़कर आएं. मैं उसे छोड़ने वापस चला गया.”

7-शो में मोदी ने कहा कि पहले मुझे गुजरात का मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला इसके बाद उन्हें देश की सेवा करने का मौका भी मिल गया. पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने लंबे अरसे बाद किसी दूसरे काम के लिए छुट्टी ली है. काम ही मेरी जिम्मेदारी है और पद से ऊपर कुछ नहीं होता है.

8-बेयर ग्रिल्स ने पीएम मोदी से पूछा कि अगर आप दुनिया को कोई संदेश देना चाहेंगे तो वह क्या होगा? इस पर पीएम मोदी ने कहा कि प्रकृति से कुछ भी लेते हैं तो सोचें कि 50 साल बाद जो बच्चा होगा वो पूछेगा कि मेरे हक की हवा क्यों खराब कर रहे हो. मैं शाकाहारी हूं, प्राणी के लिए प्रकृति का महत्व मुझे पता है.

^