दिल्ली हिंसा: पुलिस ने किया अनाउंसमेंट, कहा- उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं - Journalistdelhi.tv
 
Menu

दिल्ली हिंसा: पुलिस ने किया अनाउंसमेंट, कहा- उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं

नई दिल्ली: हिंसा वाले इलाके में पुलिस ने ये एलान किया है कि उपद्रवियों को देखते ही गोली मार दी जाएगी. पुलिस ने लोगों को हिदायत दी कि वे घरों में रहें. दिल्ली में हिंसा में अबतक 10 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 56 पुलिस वाले और 130 आम नागरिक घायल हो गए हैं. रात आठ बजे के करीब यमुना विहार के नूर-ए-इलाही चौक पर पुलिस ये एलान कर रही थी. दिल्ली पुलिस के एसीपी अनाउंसमेंट कर रहे थे, ''घरों में रहें. देखते ही गोली मारने के आदेश हैं.'' यमुना विहार इलाके में धारा 144 पहले से ही लागू है.
%e0%a4%a6%e0%a4%bf%e0%a4%b2%e0%a5%8d%e0%a4%b2%e0%a5%80-%e0%a4%b9%e0%a4%bf%e0%a4%82%e0%a4%b8%e0%a4%be-%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b2%e0%a4%bf%e0%a4%b8-%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%95%e0%a4%bf%e0%a4%af

दिल्ली के चार इलाकों में कर्फ्यू

हिंसा प्रभावित क्षेत्र मौजपुर, जाफराबाद, चांदबाग, करावल नगर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. आज पुलिस ने बताया कि अब तक दिल्ली में 11 मामले दर्ज किए गए हैं. कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है. पुलिस ने कहा कि हिंसा प्रभावित इलाकों में ड्रोन से भी निगरानी की जा रही है. आज भी भजनपुरा, करावल नगर, गोकुलपुरी, मौजपुर समेत कई इलाकों में पत्थरबाजी हुई.

कल भी नॉर्थ इस्ट इलाके में बंद रहेंगे स्कूल

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया, ”हिंसा प्रभावित नोर्थ-ईस्ट ज़िले में कल भी स्कूल बंद रहेंगे. गृह परीक्षाएँ स्थगित कर दी गई हैं. CBSE से भी कल की बोर्ड परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया है. कई जगह अफ़वाहें फैलाने का काम भी हो रहा है. जब तक कोई घटना आप अपनी आँखों से होते न देखें तब न तो ऐसी बातों पर यक़ीन करें और न ही इस तरह के Whatsapp मेसेजेस को किसी को भेजें. ऐसे नाज़ुक समय पर सबसे बड़ा योगदान अफ़वाहें न फैलाना भी है.”

अफवाहों पर ध्यान न दें दिल्ली के लोग- पुलिस

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने आज शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने दिल्ली के लोगों से अपील की कि अफवाहों पर ध्यान न दें. कानून को अपने हाथ में न लें. प्रभावित इलाकों में धारा 144 लगाई गई है. उन्होंने कहा कि एंटी सोशल एलीमेंट के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. कंट्रोल रूम में सीनियर ऑफिसर्स तैनात हैं. सीआरपीएफ, आरएएफ और दिल्ली पुलिस के एडिशनल संशाधन सक्रिय हैं.


^